मौसम के बदलाव की वजह से होने वाले कोल्ड और खांसी से बचने के लिए गिलोय के जूस से बने इस इम्युनिटी-बूस्टिंग ड्रिंक का सेवन करें - Giloy Juice Immunity Boosting Drink

जैसा की आप सबको पता है की अब मौसम में बदलाव होगा और कुछ दी दिनों में सर्दियाँ चालू हो जाएँगी, लेकिन इस मौसमी बदलवा के लिए क्या आपका इम्यून सिस्टम भी तैयार है? अगर आप इस बदलाव में ख़ुद को कोल्ड और खाँसी से बचाना चाहते हैं, तो गिलोय के जूस से बने इस इम्युनिटी-बूस्टिंग ड्रिंक का सेवन करें।

Giloy Juice Immunity Boosting Drink

मौसम के बदलाव के साथ सर्दी, खांसी, बुखार होना आम बात है और इन सबके बीच लोगों में कोरोना वायरस का भी डर है। अगर आप इन सबसे बचना चाहते हैं, तो अपनी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करिए। हालाँकि यह रातों-रात नहीं हो सकता है, लेकिन नियमित उपाय करने से इसको मज़बूत करने में मदद मिल सकती है। आज के समय में घरेलू उपचार का सहारा लेना सबसे बेस्ट है।आपकी रसोई खाद्य पदार्थों का खजाना है, जो स्वाभाविक रूप से आपकी प्रतिरक्षा को बढ़ा सकती है और सर्दी और खांसी जैसे सामान्य संक्रमणों को दूर कर सकती है।

गिलोय के जूस से बना यह इम्युनिटी बूस्टिंग ड्रिंक पोषक तत्वों और इम्युनिटी बढ़ाने वाले गुणों से भरपूर है। गिलोय का रस, गिलोय या तिनोस्पोरा कॉर्डिफोलिया (गिलोय का वैज्ञानिक नाम) की जड़ी बूटी से बनाया जाता है। गिलोय को संस्कृत में 'अमृत' के रूप में भी जाना जाता है, जिसका अनुवाद 'अमरता की जड़' से है।

गिलोय अपने उच्च औषधीय गुणों के लिए जाना जाता है। सदियों से इसका आयुर्वेदिक उपचार पद्धतियों में बड़े पैमाने पर उपयोग किया जाता रहा है। दिल्ली स्थित न्यूट्रीशनिस्ट अंशुल जयभारत कहते हैं - गिलोय का तना में उच्च औषधीय गुण होते हैं, लेकिन इसकी जड़ का उपयोग भी किया जा सकता है। वास्तव में गिलोय को एफडीए (खाद्य और औषधि प्रशासन) द्वारा उपचारात्मक दवाओं में इस्तेमाल करने की भी मंजूरी दी गई है।

गिलोय में एंटीऑक्सिडेंट गुण होते हैं, जो फ्री-रेडिकल और बीमारी पैदा करने वाले बैक्टीरिया से लड़ सकता है। गिलोय का रस विषाक्त पदार्थों को शरीर से बाहर निकालने और रक्त को शुद्ध करने के लिए जाना जाता है। डॉ आशुतोष कहते है - गिलोय पुरानी बुखार से बचने में मदद करता है क्योंकि इसकी प्रकृति एंटी-पायरेटिक है।

गिलोय का जूस अपने आप में एक बेहतरीन इम्युनिटी बूस्टिंग ड्रिंक है। इसमें कुछ अन्य शक्तिशाली खाद्य पदार्थ जैसे अदरक, लहसुन, पेपरकॉर्न, तुलसी के पत्ते आदि को मिलाने से यह अत्यधिक गुणकारी पेय बन जाता है, जो आपको स्वस्थ, फिट और आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को मज़बूत बनाये रख सकता है।

इस पेय के सभी गुण आपको स्वस्थ्य रखेंगे, साथ ही मौसमी संक्रमण से बचने में आपकी मदद करते हैं। यह पेय फेफड़ों में बलगम के निर्माण को रोकने और खांसी को कम करने में मदद करता है। पेय अन्य मौसमी बीमारियों जैसे फ्लू, बुखार और सर्दी से बचने में भी मदद करता है।

गिलोय जूस को इम्यूनिटी बूस्टिंग ड्रिंक कैसे बनाएं


इम्यूनिटी बूस्टिंग ड्रिंक के लिए सामग्रियाँ

  • ताजा तुलसी के 6-7 पत्ते
  • 2 से 3 पेपरकॉर्न
  • 4 लहसुन और लौंग (कीमा बनाया हुआ)
  • आधा इंच अदरक (कद्दूकस किया हुआ)
  • 1 छोटा चम्मच सौंफ (बीज)
  • 1 बड़ा चम्मच मेथी (बीज)

इम्यूनिटी बूस्टिंग ड्रिंक कैसे बनाएँ


इन सबको मिलाकर आधा कप पानी में तब तक उबालें जब तक कि सिरप न बन जाएं। आप इस सिरप को ज़्यादा भी बना सकते हैं और ग्लास कंटेनर में स्टोर कर सकते हैं।

एक गिलास इम्यूनिटी बूस्टिंग ड्रिंक बनाने के लिए, एक गिलास गिलोय के रस में इस सिरप को आधा चम्मच अच्छी तरह से मिलाएं। अब आपका इम्यूनिटी बूस्टिंग ड्रिंक बन कर तैयार है, अपनी प्रतिरक्षा को बढ़ाने और मजबूत करने के लिए इस जूस का नियमित रूप से सेवन करें।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां