केरल जेल के 363 कैदी कोरोना पॉजिटिव, राज्य में कोरोना के मामले 44 हजार के पार – Breaking News in Hindi

0

तिरुवनंतपुरम केंद्रीय जेल के कम से कम 363 कैदियों का कोविड-19 टेस्ट रविवार को पॉज़िटिव मिला है। आपको बता दें की पिछले दिनों इसी जेल में एक 71 वर्षीय कैदी की कोविड-19 की वाझ से मौत हो गयी थी, उसी के बाद अधिकारियों ने सभी कैदियों का कोविड परीक्षण करवाया।

363 prisoners of Kerala jail corona positive, Corona cases in state crosses 44 thousand - Breaking news in Hindi

Breaking News in Hindi

अधिकारियों ने कहा कि जेल में कोरोना के मामले और बढ़ सकते हैं क्योंकि क्योंकि सोमवार को 250 अन्य कैदियों का परीक्षण किया जाएगा।

जेल अधीक्षक पी निर्मलनंदन ने कहा – अधिकांश संक्रमित मामले स्पर्शोन्मुख होते हैं। हमने उन्हें और उन लोगों को अलग कर दिया है जिनके गंभीर लक्षण हैं, ऐसे मरीज़ों को कोविड अस्पतालों में स्थानांतरित कर दिया गया है।

कई अंडर-ट्रायल्स और सजा की अवधि पूरी होने के करीब आने वाले क़ैदियों को महामारी के प्रकोप के दौरान जेल का लोड कम करने के लिए मुक्त किया गया था।

केंद्रीय जेल में बड़े पैमाने पर संक्रमण जहां 1,000 से अधिक कैदी हैं, ने पहले से ही स्वास्थ्य अधिकारियों और अन्य लोगों को चिंतित कर दिया है, क्योंकि इनको कोरोना कैसे हुआ इसके बारे में अभी कोई जानकारी नही मिल पाई है।

राज्य में आज दर्ज किए गए संक्रमणों में से 53 स्वास्थ्य कार्यकर्ता हैं। मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन और उनके सात मंत्रियों का कई बार परीक्षण किया गया, अभी तक इनकी रिपोर्ट नेगेटिव मिली है।

मुख्यमंत्री का परीक्षण इस लिए किया जा रहा है की वो ऐसे ज़िला अधिकारियों से मिले थे जो पिछले सप्ताह कोझीकोड में एयर इंडिया एक्सप्रेस के विमान दुर्घटना स्थल राहत काम में शामिल थे, उस प्लेन में मौजूद एक व्यक्ति कोरोना संक्रमित था, इसलिए सभी की जाँच करवाई जा रही है।

इस बीच सीएम ने स्वास्थ्य अधिकारियों और अन्य लोगों की सराहना की, जिन्होंने कोरोना महामारी के इस समय में एक उल्लेखनीय काम किया।

जनवरी में केरल में पहली बार वायरस का मामला दर्ज किया गया था, जिसमें त्रिशूर का एक मेडिकल छात्र चीन से लौटा था। आज केरल राज्य में कोरोना की वजह से 10 मौतें हुयी है।

अब तक राज्य में कोरोना के कारण मौतों की संख्या 157 हो गई है। राज्य में कुल मामले 44,384 हैं। इनमें से 15310 सक्रिय मामले और 28,878 ठीक हो चुके मामले हैं।

Exit mobile version