बल्ब की खोज किसने की थी? | Bulb ki khoj kisne ki thi

बल्ब की खोज किसने की थी (Bulb ki khoj kisne ki thi): क्या आप इस प्रश्न “बल्ब की खोज किसने की थी (Bulb Ki Khoj Kisne Ki Thi)” का जवाब खोज रहे हैं? अगर हाँ, तो इस आर्टिकल में आपको पूरी जानकारी मिलेगी।

बल्ब की खोज किसने की थी | बल्ब की खोज किसने और कब थी?

बल्ब की खोज थॉमस एल्वा एडिसन (Thomas Alva Edison) ने की थीउन्होंने 1879 में प्रथम विद्युत बल्ब का आविष्कार किया था। इससे पहले भी कुछ वैज्ञानिकों ने विद्युत बल्ब तैयार करने का प्रयास किया था, लेकिन उनके नतीजे उन्हें सफलता नहीं दिखा रहे थे। एडिसन ने इसके लिए एक विशेष धातु का उपयोग किया था जो बल्ब के फिलामेंट के लिए उपयुक्त था और उन्होंने उसे एक सफल और स्थायी विद्युत बल्ब तैयार करने में सफलता प्राप्त की।

बल्ब की खोज कैसे हुई थी?

थॉमस एल्वा एडिसन को विद्युत बल्ब की खोज के लिए कई अनुसंधान करने पड़े थे। उन्होंने विभिन्न विद्युत धाराओं और विभिन्न धातुओं का उपयोग करके अनुसंधान किए थे।

एडिसन ने विद्युत बल्ब के लिए उचित धातु का उपयोग करके एक सफल विद्युत बल्ब तैयार किया। उन्होंने इस बल्ब के लिए एक उच्च-पट्टी फिलामेंट का उपयोग किया, जो बहुत देर तक जल सकता था। इस फिलामेंट को एक विशेष विद्युत दाब में रखकर विद्युत वर्तुल के साथ इसको जलाया जाता था जिससे यह प्रकाश देता था।

एडिसन ने अपनी खोज से पहले भी कुछ वैज्ञानिकों ने विद्युत बल्ब के लिए काम किया था, लेकिन उनके नतीजे सफल नहीं रहे थे। एडिसन के आविष्कार ने विद्युत बल्ब का उपयोग समृद्ध और व्यापक ढंग से संभव बनाया,

Leave a Reply