Defence News in Hindi

चीनी मीडिया का आरोप – भारत और अमेरिका पाकिस्तान में आतंकवाद फैला रहे : Defence News in Hindi

सोशल मीडिया में शेयर करें

Defence News in Hindi : चीनी मीडिया का कहना है कि पाकिस्तान में भारतीय, अमेरिकी खुफिया तंत्र आतंकवाद का समर्थन कर रहे हैं। चीन के सरकारी मीडिया ग्लोबल टाइम्स के संपादकीय में पाकिस्तान में आतंकवाद को प्रायोजित करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की चेतावनी दी गई।

पाकिस्तान में चीनी दूतावास ने शनिवार को बलूचिस्तान में आत्मघाती बम हमले के मद्देनजर देश में चीनी नागरिकों की सुरक्षा के लिए इस्लामाबाद से “व्यावहारिक और प्रभावी” उपायों की मांग की।

Defence News in Hindi - Chinese Media said that India and America support terrorism in Pakistan
Defence News in Hindi – Chinese Media said that India and America support terrorism in Pakistan

बीजिंग की सहायता से विकसित किए जा रहे पाकिस्तान के बंदरगाह शहर ग्वादर में शुक्रवार को चीनी नागरिकों को ले जा रहे एक काफिले पर हमला किया गया था। इस हमले में एक चीनी नागरिक घायल हो गया, जबकि इलाके में खेल रहे दो पाकिस्तानी बच्चों की मौत हो गई।

अलगाववादी संगठन बलूचिस्तान लिबरेशन आर्मी (बीएलए) की एक इकाई ने हमले की जिम्मेदारी ली है। पिछले महीने खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के दसू में एक बस पर हुए हमले में बांध परियोजना पर काम कर रहे नौ चीनी नागरिकों की मौत हो गई थी।

चीन का सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स ने बलूचिस्तान में हुए ताजा हमले पर न्यूज़ पब्लिश किया है। बीजिंग के बॉर्डर रोड इनिशिएटिव (बीआरआई) के केंद्र, चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे (सीईपीसी) के विकास में ग्वादर बंदरगाह को एक महत्वपूर्ण हिस्सा माना जाता है। ग्वादर से होते हुए पाकिस्तान की मुख्य भूमि के रास्ते चीन से आयात और निर्यात के लिए अरब सागर के लिए एक सीधी रोड होने की उम्मीद की जा रही है। इससे चीनी व्यापारियों को चीनी बंदरगाहों से लंबे समुद्री मार्गों पर निर्भरता कम करने में मदद मिलेगी।

इसे भी पढ़ें :   Gissar Military Aerodrome (गिस्सार सैन्य हवाई अड्डा) - भारत का पहला विदेशी सैन्य बेस

ग्लोबल टाइम्स ने शनिवार को एक संपादकीय में ग्वादर में हुए हमले को बीआरआई को पटरी से उतारने की कोशिशों से जोड़ा। और लिखा की – इस क्षेत्र में, पाकिस्तान में घुसपैठ करने के इच्छुक अमेरिकी और भारतीय खुफिया बलों ने चीन के बीआरआई के प्रति शत्रुतापूर्ण रवैया अपनाया है। चीन के उदय को रोकने के लिए बीआरआई के विकास को रोकना उनका मुख्य लक्ष्य बन गया है। इस का परिणाम है चीनी इंजीनियरों को लक्षित करके करवाया गया आतंकवादी हमला। ग्लोबल टाइम्स ने दावा किया कि – दसू जलविद्युत परियोजना में हुआ हमला भारतीय खुफिया एजेंसी के सपोर्ट में किया गया था। खैबर पख्तूनख्वा हमले के बाद पाकिस्तानी सरकार ने भी भारत पर उंगली उठाई थी।

ग्लोबल टाइम्स ने लिखा कि – अंतरराष्ट्रीय ताकतों के बुरे इरादों ने पाकिस्तान में आतंकी ताकतों को और उकसाया है। यह बहुत अधिक संभावना है कि वे ताकतें पाकिस्तान में आतंकवाद का समर्थन करती हैं। चीन को पाकिस्तान सरकार के साथ मिलकर एक लंबी लड़ाई के लिए तैयार रहना चाहिए।

द ग्लोबल टाइम्स ने अफगानिस्तान के नए शासक तालिबान से “उन आतंकवादी ताकतों पर हमला करने का आह्वान किया जो अफगानिस्तान में तैयार हुए थे लेकिन अब पाकिस्तान में सक्रिय हैं”।

संपादकीय में पाकिस्तान में आतंकवाद को प्रायोजित करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की चेतावनी दी गई है। चीन न केवल इन आतंकी ताकतों को हराने के लिए पाकिस्तान का समर्थन करेगा, बल्कि सभी बाहरी ताकतों को उन आतंकी ताकतों से दूर रहने की चेतावनी भी देगा। एक बार जब चीन को सबूत मिल जाएगा कि वे पाकिस्तान में आतंकवादी ताकतों का समर्थन करते हैं, तो चीन उन्हें भी सबक़ सिखाएगा।

इसे भी पढ़ें :   जम्मू-कश्मीर में पाकिस्तान समर्थक, आतंकवाद के वित्तपोषक हुर्रियत कांफ्रेंस पर लगने वाला है प्रतिबंध - Defence News in Hindi

देश-दुनिया के डिफ़ेन्स से जुड़े समाचार पढ़ने के लिए Times of MP के Defence ForumDefence News in Hindi‘ में विज़िट करें।

Defence News Web Title : Chinese Media said that India and America support terrorism in Pakistan – Defence News in Hindi.


सोशल मीडिया में शेयर करें

Leave a Reply

You cannot copy content of this page
error: Content is protected !!