इंदौर का पुराना नाम क्या था (प्राचीन नाम) » Indore ka Purana Name (Old Name in Hindi)

इंदौर का पुराना (प्राचीन) नाम: इंदौर, भारत के मध्य भाग में स्थित एक शहर है, जिसमें एक समृद्ध सांस्कृतिक विरासत और सदियों पुराना इतिहास है। शहर को इसके पूरे इतिहास में कई नामों से जाना जाता है, प्रत्येक नाम इसके विकास में एक महत्वपूर्ण अवधि को चिह्नित करता है। इस लेख में हम जानेंगे की इंदौर का पुराना नाम क्या था (What was the old name of Indore in Hindi). अगर आप जानना चाहते हैं कि इंदौर का प्राचीन नाम क्या था (What was the ancient name of Indore in Hindi), तो इस लेख को पूरा पढ़ें. यहाँ पर इंदौर के पुराने (प्राचीन) नाम के साथ इतिहास और नाम कैसे बदला कौन रखा जैसी जरुरी जानकारी दी गई है। आइए जानते हैं, Indore ka Purana Name (Old Name in Hindi) Kya Tha:

इंदौर का पुराना नाम क्या था (प्राचीन नाम) » Indore Old (Ancient) Name in Hindi

इंदौर को पूर्व में ‘इंद्रपुर और मल्हार नगरी’ के नाम से जाना जाता था

इंदौर का सबसे पुराना ज्ञात नाम इंद्रपुर है, जिसका अर्थ है “इंद्र नगर”। यह नाम हिंदू पौराणिक कथाओं से शहर के संबंध को दर्शाता है, क्योंकि इंद्र हिंदू धर्म में देवताओं के राजा हैं और बिजली, गड़गड़ाहट और बारिश से जुड़े हैं। इंद्रपुर का नाम इंद्र के नाम पर रखा गया था, क्योंकि यह उनका घर माना जाता था। इंद्रपुर की स्थापना 16वीं शताब्दी में होल्करों द्वारा की गई थी, जो एक प्रमुख राजवंश था जिसने कई शताब्दियों तक इंदौर पर शासन किया था।

18वीं शताब्दी में, शहर का नाम बदलकर मल्हार नगरी कर दिया गया, जिसका अर्थ है “मल्हार का शहर”। यह नाम भगवान शिव से शहर के संबंध को दर्शाता है, जिन्हें मल्हार के नाम से भी जाना जाता है। भगवान शिव हिंदू धर्म में प्रमुख देवताओं में से एक हैं, और उनकी पूजा पूरे भारत में प्रचलित है। मल्हार नगरी नाम शहर की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत और हिंदू धर्म से इसके घनिष्ठ संबंधों का प्रमाण है।

बाद में, शहर का नाम छोटा कर इंदौर कर दिया गया, जो कि आज के नाम से जाना जाता है। इंदौर नाम इंद्रेश्वर मंदिर से लिया गया है, जो भगवान शिव को समर्पित है और शहर में स्थित है। मंदिर हिंदुओं के लिए एक महत्वपूर्ण धार्मिक स्थल है और शहर के प्रमुख पर्यटक आकर्षणों में से एक है।

निष्कर्ष » इंदौर का प्राचीन (पुराना) नाम | Indore Ka Pracheen (Purana) Naam

इंदौर का एक आकर्षक इतिहास है, और इसके पुराने नाम – इंद्रपुर और मल्हार नगरी – हिंदू पौराणिक कथाओं में इसकी गहरी जड़ों के प्रमाण हैं। चाहे आप इतिहास के शौकीन हों, सांस्कृतिक उत्साही हों, या यात्री हों, इंदौर में हर किसी के लिए कुछ न कुछ है। आज, इंदौर समृद्ध सांस्कृतिक विरासत वाला एक हलचल भरा महानगर है। यह शहर अपने भोजन के लिए प्रसिद्ध है, जिसमें पोहा, जलेबी और चाट जैसे स्थानीय व्यंजन शामिल हैं। यह अपने खूबसूरत महलों, मंदिरों और अन्य ऐतिहासिक स्थलों के लिए भी जाना जाता है।

Leave a Reply