Advertisement

Rampur Baghelan Satna News (रामपुर बघेलान सतना समाचार) : मार्च का महीना ख़त्म होते ही मध्यप्रदेश के दक्षिणी हिस्से में सूखा पड़ जाता है। अगर बाणसागर परियोजना से इस क्षेत्र में पानी आता है, तो लोगों को शुकुन मिलेगा और पानी के लिए भटकना नही पड़ेगा।

Chief Engineer inspected the Bansagar Canal Project, Rampur Baghelan Satna News

मध्यप्रदेश क्षेत्र के दक्षिणी हिस्से में बाणसागर नहर परियोजना से पानी लाने के लिए संघर्षरत ‘बाणसागर जल लाओ संघर्ष समिति’ के आह्वान पर बाणसागर की बहुती उच्च स्तरीय नहर प्रणाली के रामपुर क्षेत्र के दक्षिणी हिस्से में विस्तार के लिए शुक्रवार को गंगा कछार के मुख्य अभियंता एके जैन, अधीक्षण यंत्री सीएम त्रिपाठी, कार्यपालन यंत्री डीके खरे व एसडीओ अमरदीप त्रिपाठी सहित विभागीय कर्मचारी रामपुर के पाल बछड़ा धमना व मजगामा पहुंचकर बाणसागर नहर का पानी लाने के लिए जमीनी हकीकत जानने की कोशिश की।

इस अवसर पर ‘बाणसागर जल लाओ संघर्ष समिति’ के सुधाकर सिंह, अध्यक्ष रोहितकांत सिंग, सुधीर मिश्रा, अशोक सिंह, नागेंद्र सिंह, राजेश सिंह राठौर, गंगा तिवारी, कुल भूषण मिश्रा, रामचंद्र सिंह, अरुणेश सिंह, परीक्षित पाठक आदि मौजूद थे।

Advertisement

सतना का अधिकांश हिस्सा गर्मी के मौसम में सूखा रहता है यहाँ का वॉटर लेवल वर्षा जल पर निर्भर है। जिस वर्ष बारिश अच्छी होती है, तो फ़सल भी सही होती है और गर्मी में पानी का अभाव कम होता है। लेकिन बारिश कम होने से लोगों की मुसीबत बढ़ जाती है। खेती सूखने के साथ पीने के पानी के लिए भी लोगों को इधर-उधर भटकना पड़ता है।

Web Title : Chief Engineer inspected the Bansagar Canal Project, Rampur Baghelan Satna News.

Advertisement
Advertisement